केदारनाथ कैसे जाएं और कब जाएं | How To Reach Kedarnath in Hindi

इस आर्टिकल में हम आप लोगों को केदारनाथ कैसे जाएं और कब जाएं या How To Reach Kedarnath के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं. तो सबसे पहले हम आप लोगों को यह बता दें कि केदारनाथ की यात्रा को धर्म की दृष्टि से भारत की सबसे बड़ी यात्रा के तौर पर जाना जाता है. यह यात्रा संपूर्ण रूप से भगवान शिव जी को समर्पित है.

यहां पर भगवान शिव का एक ऐतिहासिक मंदिर है जिसका निर्माण पांडवों के वंशज ने कराया था. करीब 1000 वर्षों से केदारनाथ की यात्रा का हिंदू धर्म में बेहद अधिक महत्व है. यही वजह है कि हर साल लाखों लोग बेहद उत्साह और श्रद्धा भाव से इस यात्रा में शामिल होते हैं. इसलिए अक्सर लोग केदारनाथ की यात्रा पर कैसे जाएं और कब जाएं की जानकारी इंटरनेट पर खोजते रहते हैं.

How To Reach Kedarnath

केदारनाथ कैसे जाएं|How To Reach Kedarnath in Hindi

किसी भी यात्रा पर जाने से पहले उसके बारे में प्रर्याप्त जानकारी हासिल करना बहुत जरूरी होता हैं. वही चाहे वह केदारनाथ या अन्य कोई भी यात्रा हो, केदारनाथ की यात्रा सुनने में जितनी शानदार लगती है उतनी ही चुनौतीपूर्ण भी हैं. इसलिए यहां पर जाने से पहले पूरी तैयारी करना बेहद जरूरी हैं. इसलिए हम आपको यहां पर केदारनाथ जाने की संपूर्ण जानकारी दें रहे हैं. जो आपके लिए बेहद लाभदायक हो सकती हैं.

केदारनाथ यात्रा का रजिस्ट्रेशन कैसे करें

जब आप केदारनाथ की यात्रा पर जाते है तो इसके लिए सबसे पहले आपको रजिस्ट्रेशन करना बेहद जरूरी होता हैं. यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन आप ऑनलाइन कर सकते हैं. इसके आलावा आप ऋषिकेश के बस स्टॉप या केदारनाथ जाकर रजिस्ट्रेशन कार्यालय से भी कर सकते हैं.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप अधिकारिक बेवसाइट पर जानकर अपनी जानकारी भरकर कर सकते हैं. इसके लिए आपके पास अपनी और आधारकार्ड कि फोटो होनी चाहिए. वेबसाइट पर जाकर आपको अपने मोबाइल नंबर से लॉगइन करना होता हैं. इसके बाद आप चाहे तो यहां से चार धाम यात्रा का रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. या इसके अलावा आप केदारनाथ​, बद्रीनाथ​, गंगोत्री या यमुनोत्री का रजिस्ट्रेशन भी करा सकते हैं.

केदारनाथ की यात्रा कैसे करें/How To Reach Kedarnath in Hindi

श्री केदारनाथ की यात्रा उत्तराखण्ड के रूद्रप्रयाग जिले के गौरीकुण्ड से शुरू होती हैं. जिसके लिए आपको सबसे पहले गौरीकुण्ड पहुंचना होता हैं. गौरीकुण्ड जाने के लिए ऋषिकेश के बस, कार और टैक्सी सभी तरह के साथ मिल जाते हैं. यदि आप बस​, कार व टैक्सी से जाते है तो वह आपको सोनप्रयाग तक लेकर जाती हैं. सोनप्रयाग से आप टैक्सी के द्वार गौरीकुण्ड जा सकते हैं जहां से यात्रा कि शुरूआत होती हैं.

आप केदारनाथ की यात्रा पैदल और हेलीकॉप्टर दो तरीको से कि जा सकती हैं. यदि आप पैदल यात्रा करना चाहते है तो आपको गौलीकुण्ड जाना होता हैं. वही यदि आप हेलीकॉप्टर से यात्रा करना चाहते है तो इसके लिए आपको बस या कार से फाटा तक जाना होता है यहा से आप हेलीकॉप्टर बुक कर सकते हैं. केदारनाथ यात्रा के लिए हेलीकॉप्टर बुकिंग के लिए आप वेबसाइट पर जा कर ऑनलाइन बुकिंग भी कर सकते हैं.

कंप्यूटर क्या है? जानिए इतिहास, प्रकार, साइबर सुरक्षा, ग्राफिक्स व भविष्य की उम्मीद

पैदल केदारनाथ की यात्रा पर कैसे जाएं?

यदि आप पैदल केदारनाथ जाना चाहते है तो इसके लिए गौरीकुण्ड से यात्रा शुरू होती है जो 19 किलोमीटर कि हैं. गौरीकुण्ड से आप पैदल के अलावा घोड़े, खच्चर और पाल्की से भी जा सकते हैं. यदि आप पैदल जाते है तो इसके लिए आपको 8 से 10 घंटे का समय लगता हैं. क्योंकि यहां पर खड़ी चढ़ाई है जिसकी वजह से काफि थकावट होती हैं.

वही यहां का मौसम भी लगातार बदलता रहता हैं. कभी बारसात होने लगती है तो कभी ठंठी हवाएं चलने लगती हैं. गौरीकुण्ड से पैदल केदारनाथ की यात्रा जंगलचट्टी, भीमबली, रामबाड़ा, छोटा लिनचोली, लिनचोली, छानी कैम्प और रूद्र प्वाइंट से होकर गुजरती हैं.

यह भी पढ़े
केदारनाथ में घूमने की 5 अच्छी जगह​!
स्वामी दिपांकर जी के 25 अनमोल वचन​!
कन्नड़ भाषा की 10 सबसे अधिक कमाई करने वाली फिल्में!
8 Best Mobile Apps For Free Watch Movies & Web Series!
अमिताभ बच्चन के 10 मोटिवेशन कोट्स!
Hanumantiya Tapu कैसे जाएं?
अमरनाथ कैसे जाएं और घूमने की अच्छी जगह​

केदारनाथ की यात्रा पर कब जाएं?

वैसे तो केदारनाथ की यात्रा मई माह से शुरू होकर नवम्बर माह तक चलती हैं. इस बीच में आप यहां पर कभी भी जा सकते हैं. लेकिन यहां बरसात में यहां पर बर्षा अधिक होती है जिसकी वजह से पहाड़ फिसलते रहते है और बाढ़ का खतरा भी रहता हैं. यही वजह है कि बरसात का मौसम यहां पर जाने के लिए अच्छा नहीं माना जाता हैं. यदि आप यहां पर मई से जून मध्य तक या इसके बाद सितम्बर से नवम्बर माह तक जा सकते हैं.

People Also Ask?

केदारनाथ की यात्रा में कितना खर्च आता है?

यदि आप पैदल केदारनाथ की यात्रा पर जाते है तो ऋषिकेश 5 से 6 हजार रूपये का खर्चा आता हैं.

केदारनाथ जाने का सही समय क्या हैं?

मई से जून मध्य तक या इसके बाद सितम्बर से नवम्बर माह तक जा सकते हैं.

ऋषिकेश से केदारनाथ कैसे जाएं?

ऋषिकेश से केदारनाथ जाने के लिए बस स्टेंड से बस और कार मिल जाती हैं. सरकारी बस का किराया 600 से 700 के बीच होता है तो वही कार का किराया 1000 से 1200 के बीच होता हैं.

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल केदारनाथ कैसे जाएं और कब जाएं | How To Reach Kedarnath in Hindi अच्छा लगा है तो आप हमें कमेंट कर बता सकते हैं. यात्रा, टैक्नोलॉजी, सेहत और मोटिवेशक कोट्स से जुड़ी हुई नवीनतम जानकारी के लिए हमारी बेवसाइट पढ़ते रहिए.

(Visited 696 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close button